दुनिया की सबसे महंगी कार बनाने वाली कंपनी Rolls Royce के बारे में ये 10 दिलचस्प बातें आप नहीं जानते होंगे

दुनिया भर में कारों का खूब क्रेज है, कार के वाहन के साथ शान और शौकत से भी जुड़ चुकी है. यही वजह है कि लोग लग्जरी कारें खरीदना पसंद करते है. दुनिया में कई ऐसी चीजें है जिनके बारे में जानने को लोग उत्सुक रहते है उन्हीं में से कार भी एक ऐसी ही चीज है. अगर हम दुनिया में सबसे महंगी कारों की कीमत और उन्हें बनाने वाली कंपनियों की बात करें तो एक नाम रॉल्स रॉयस (Rolls Royce) का भी आता है.

Rolls Royce Boat Tail
Rolls Royce Boat Tail

दुनिया भर में प्रीमियम लग्जरी कारें बनाने वाली कई कंपनियां है, इन्हीं में से एक ऑटोमोबाइल कंपनी रॉल्स रॉयस (Rolls Royce) है. रॉल्स रॉयस (Rolls Royce) ऑटोमोबाइल कंपनी दुनिया भर में काफी मशहूर है.

Rolls Royce Boat Tail

यह कंपनी अपनी लग्जरी और महंगी कारों के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है. हाल ही में इस ब्रिटिश ऑटोमोबाइल कंपनी ने दुनिया की सबसे महंगी कार लॉन्च की है. वैसे तो ऐसी कई कारें है जिनकी कीमत 100 करोड़ रुपये से भी ज्यादा है. लेकिन रॉल्स रॉयस ने इस कीमत से भी डबल कीमत में कार लॉन्च की है.

Rolls Royce Boat Tail दुनिया की अब तक की सबसे महंगी कार है. इसे रॉल्स रॉयस ने कुछ ही महीनों पहले लॉन्च किया था. इसका नाम रॉल्स रॉयस बोट टेल रखा गया है. वहीं इस कार की कीमत की बात की जाए तो इस सुपरकार की कीमत 28 मिलियन डॉलर जो भारतीय मुद्रा में करीब 202 करोड़ रुपये है.

Rolls Royce 10 HP
Rolls Royce 10 HP

वहीं इस कार की डिजाइन की बात की जाए तो इसका पिछला हिस्सा बोट की तरह दीखता है, इसलिए ही इसे ये नाम दिया गया है. इस लग्जरी और रॉयल कार की लंबाई 19 फीट है. वहीं Boat Tail कार की अधिकतम स्पीड की बात करें तो ये 250 किलोमीटर प्रति घंटा तक की रफ्तार पकड़ सकती है.

दुनिया की सबसे महंगी कार बनाने वाली कंपनी रॉल्स रॉयस लग्जरी कारों का ही निर्माण करती है. आज हम रॉल्स रॉयस कंपनी से जुड़े 10 दिलचस्प बातें आपको बताने वाले है जिन्हें शायद आप नहीं जानते होंगे.

1. रोल्स रॉयस के संस्थापक

ब्रिटिश ऑटोमोबाइल कंपनी रोल्स रॉयस की स्थापना 1904 में की गई है. इसे Charles Rolls और Henry Royce के द्वारा स्थापित किया गया था. इसलिए इसका नाम Rolls-Royce रखा गया.

2. रोल्स रॉयस की पहली कार

रोल्स रॉयस कंपनी ने अपनी पहली कार को सन 1904 में बनाई थी, इस कार को रोल्स रॉयस 10 HP नाम दिया गया था.

3. रोल्स रॉयस फैंटम

रोल्स रॉयस कंपनी दुनिया भर में कई जगहों पर अपनी कारों का निर्माण करती है. इस कंपनी का मुख्यालय ब्रिटिश में है लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया भर की रोल्स रॉयस फैंटम का निर्माण सिर्फ जर्मनी में ही किया जाता है.

4. 1946 से पहले

Rolls Royce की कारों को 1946 से पहले कई कंपनियां मिलकर बनाती थीं.

5. 65% कारें आज भी सक्रिय

रोल्स रॉयस कंपनी द्वारा अब तक बनाई गई कारों की लगभग 65% कारें आज भी सेवा में हैं.

6. AC की कूलिंग

रोल्स रॉयस के AC की कूलिंग कैपेसिटी बहुत ज्यादा होती है, यह करीब 30 रेफ्रिजरेटर्स के बराबर होती है.

7. दिवालिया हो गई थी कंपनी

इस लग्जरी कार कंपनी ने बुरे दिन भी देखें है, 1971 में एक ऐसा वक्त भी रहा जब रोल्स रॉयस दिवालिया घोषित हो गई थी.

8. सन स्प्रीट ऑफ एक्स्टसी़

sun spirit of ecstasy
Sun Spirit of Ecstasy

रोल्स रॉयस के बोनट पर आपको एक उड़ते हुए इंसान का लोगों नजर आता होगा, इसे सन स्प्रीट ऑफ एक्स्टसी कहा जाता है.

9. हैंडमेड

आजतक ज्यादतर कारों का निर्माण मशीनें कर रही है लेकिन रोल्स रॉयस आज भी इंसानों को भरोसेमंद मानती है. कार के कई हिस्से आज भी हैंडमेड होते हैं.

10. जेट इंजन

एक वक्त ऐसा भी रहा जब रोल्स रॉयस ने कारों के अलांवा जेट इंजन भी बनाने शुरू किये थे.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.