VIDEO: अब कृष्ण जन्मभूमि से शाही ईदगाह मस्जिद हटाने की उठी मांग

अयोध्या की वि’वा’दित बाबरी मस्जिद की जमीन को लेकर फैसला अपने पक्ष में आने से उत्साहित हिन्दू पक्ष ने अब मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मभूमि को लेकर दावा ठोक दिया हैं. अयोध्या में राम लला विराजमान को कानूनी ल’ड़ा’ई में मिली जीत को देखते हुए अब मथुरा में श्रीकृष्ण विराजमान ने भी कोर्ट का रुख कर लिया हैं. मथुरा कोर्ट में एक सिविल मुकदमा दायर करके श्री कृष्ण विराजमान ने अपनी जन्मभूमि से कब्जा हटवा’ने की गुहार लगाई हैं.

इस याचिका के तहत श्रीकृष्ण विराजमान ने 13.37 एकड़ की कृष्ण जन्मभूमि का स्वामित्व मांगा है. इस जमीन पर मुग़ल काल के दौरान कब्ज़ा करके शाही ईदगाह का निर्माण कर लिया गया था.

Shree Krishna Janmbhumi

अब कोर्ट से इस शाही ईदगाह मस्जिद को हटा’ने की मांग श्रीकृष्ण विराजमान द्वारा की गई हैं. यह मुकदमा भगवान श्रीकृष्ण विराजमान, कट’रा केशव देव खेवट, मौजा मथुरा बाजार शहर की तरफ से उनकी अंतरंग सखी के तौर पर अधिवक्ता रंजना अग्निहोत्री और छह अन्य भक्तों ने दायर किया गया हैं.

लेकिन इस मामले में प्लेसेज ऑफ वर्शिप एक्ट 1991 बीच में रुकावट बना हुआ है. इस एक्ट के तहत विवा’दित राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मुकद’मेबाजी को लेकर मालकिना हक पर मुकदमे में छूट दी गई थी. इस दौरान अलबत्ता, मथुरा-काशी समेत सभी धार्मिक या आस्था स्थलों के विवा’दों पर दायर मुकदमों पर रोक लगा दी गई थी.

वहीं इससे कुछ दिन पहले ही प्रयागराज में अखाड़ा परिषद की बैठक के दौरान साधु-संतों द्वारा मथुरा कृष्ण जन्मभूमि और काशी विश्वनाथ मंदिर को लेकर काफी लंबी चर्चा हुई थी. इस दौरान संतों ने काशी-मथुरा के लिए लामबंदी शुरू करने के प्रयास करने की बात कहीं थी.

आपको बता दें कि अयोध्या में राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद वि’वा’द को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए वि’वा’दित जमीन को हिन्दू पक्ष को सौं’प दिया गया. जबकि सुप्रीम कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में कहीं और मस्जिद का निर्माण करने के लिए पांच एकड़ जमीन देने का आदेश सरकार को दिया था.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *