उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा, जाने कब-किस राज्य में होगी वोटिंग

देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने है, इसे लेकर आज चुनाव आयोग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान पांचों राज्यों में विधानसभा चुनावों के लिए तारीखों का ऐलान किया गया. चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा के विधानसभा चुनावों के लिए तारीखों का ऐलान किया है. चुनाव आयोग ने आज 3:30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस की है.

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान चुनाव आयोग ने चुनावों की तारीखों को लेकर लंबे वक्त से चल रहा इंतजार खत्म किया. इलेक्शन कमिशन ने तारीखों के ऐलान के साथ-साथ कोरोना गाइडलाइन्स भी जारी की है.

पांच राज्यों में तारीखों का ऐलान

आपको बता दें कि पांच राज्यों में होने वाले इन चुनावों में यूपी सबसे बड़ा राज्य है. यूपी में 403 सीटों के लिए वोटिंग होने वाली है. जबकि पंजाब से 117 विधायक चुने जाएंगे.

election commission

इसके आलावा उत्तराखंड से 70, मणिपुर से 60 और गोवा राज्य से 40 प्रतिनिधियों का चुनाव करने के लिए जनता वोटिंग करेंगी. वहीं जिन पांच राज्यों में चुनाव होने जा रहे है उनमें से चार राज्यों में बीजेपी की सरकार है, सिर्फ पंजाब में कांग्रेस की सत्ता काबिज है. ऐसे में बीजेपी के सामने अपने चार गढ़ बचाने की बड़ी चुनौ’ती होगी.

प्रेस कांफ्रेस के दौरान मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चन्द्र ने कहा कि राजनीतिक दल अगर लंबित आपराधिक मामलों वाले व्यक्ति को अपना उम्मीदवार चुनते है तो उन्हें उसके बारे में सारी जानकरी अपनी वेबसाइट पर देनी होगी साथ ही उसके चयन का कारण भी बताना होगा.

चंद्रा ने कहा कि पांचों राज्यों में विधानसभा चुनाव सात चरणों में पूरे कराए जाएंगे. उत्तर प्रदेश में 7 चरणों में 10 फरवरी से 7 मार्च तक मतदान होगा.

जबकि पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में 14 फरवरी को मतदान होगा. मणिपुर में दो चरण के तहत 27 फरवरी और 3 मार्च को मतदान होगा. जबकि 10 मार्च को मतगणना की जाएगी.

इससे पहले देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते विस्फोटक मामले के चलते आयोग ने स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव के साथ बैठक भी की थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस बैठक के दौरान विधानसभा चुनावों को लेकर बातचीत की गई.

चुनाव आयोग ने अपने प्रेसवार्ता के दौरान यह भी कहा कि चुनाव के दौरान कोविड नियमों का सख्ती के साथ पालन हो इसका ध्यान रखा जाएगा. चुनाव आयोग ने कहा है कि 15 जनवरी तक कोई रोड शो, पदयात्रा या फिजिकल रैली नहीं होगी. आगे के लिए निर्देश स्थिति की समीक्षा के बाद जारी किये जाएंगे.

माना जा रहा है कि इन पांच राज्यों में चुनाव ऐसे वक्त में है जब कोरोना की तीसरी लहर अपने पीक पर रह सकती है. पिछले कुछ दिनों से कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे है जो बेहद चिंताजनक है.

sushil chandra cec

अब उम्मीदवार कर सकेंगे ज्यादा पैसा खर्च

वहीं इस बार चुनाव आयोग ने लोकसभा और विधान सभाचुनाव में प्रत्याशियों द्वारा खर्च की जाने वाली सीमा में बढ़ोत्तरी की है. चुनाव आयोग ने तय किया है कि अब उम्मीदवार चुनाव में प्रचार में ज्यादा पैसा खर्च सकेंगे.

चुनाव आयोग ने बढ़ती महंगाई को ध्यान में रखते हुए फैसला लिया है कि बड़े राज्यों में विधान सभा चुनाव लड़ने के लिए अब उम्मीदवार 28 लाख के बढ़ाकर 40 लाख तक खर्च कर सकेंगे. जबकि केंद्र शासित प्रदेशों और छोटे राज्यों में खर्च की सीमा 20 लाख रुपये से बढ़ाकर 28 लाख की गई है.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.