कान पकड़ उठक-बैठक करके माफ़ी मांगने के बाद अब बीजेपी विधायक कर रहे मतदाता की तेल मालिश

उत्तर प्रदेश: यूपी का विधानसभा चुनाव कई रंग दिखा रहा है, कई बयान कई नेता लगातार चर्चा में है. चुनाव जीतने के लिए नेता किसी भी हद तक जा सकते हैं ये बात तो आप जानते ही होंगे. नेताओं को अपने क्षेत्र के मतदाताओं के आगे हाथ जोड़ते, उनके पैर छूते हुए तो आपने कई बार देखा ही होगा. लेकिन यूपी के एक बीजेपी विधायक ने इस मामले में एक अलग ही लेवल छू लिया है.

यह बीजेपी विधायक लगातार चर्चा में है, हाल ही में भरी सभा में कान पकड़कर उठक-बैठक लगाने के चलते चर्चा में आए नेता जी एक बार फिर से चर्चा में है.

तेज धुप में कर रहे है बुजुर्ग की तेल मालिश

इस बार राबर्ट्सगंज के भाजपा विधायक व प्रत्याशी भूपेश चौबे मतदाता की तेल मालिश करते हुए दिख रहा है. उनका यह वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. इससे पहले वो कान पकड़कर उठक-बैठक करते हुए माफी मांगने के लिए चर्चा में आए थे.

Netaji massaging

वीडियो में चौबे को एक बुजुर्ग शख्स की तेल मालिश करते हुए देखा जार हा है, हालांकि यह साफ नहीं हो पाया है कि यह वीडियो कब का है लेकिन पिछले दिनों मांफी मांगने वाले वीडियो के बाद इन दिनों यह वीडियो काफी सुर्ख़ियों में है.

सातवें चरण के दौरान सोनभद्र में सात मार्च को मतदान होने वाले है. ऐसे में प्रत्याशी जी-जान से प्रचार-प्रसार करने में लगे हुए है. इस दौरान रूठों को मानाने का प्रयास भी किया जा रहा है और इसके लिए कई तरह के हथकंडे अजमाए जा रहे है.

इसी कड़ी में बीते दिनों बीजेपी के त्रिदेव सम्मेलन में राबर्ट्सगंज सीट से बीजेपी के मौजूदा विधायक और प्रत्याशी भूपेश चौबे ने भरी जनसभा में मंच पर कान पकड़कर उठक-बैठक लगाई.

उन्होंने जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं की नाराजगी दूर करने के लिए सार्वजनिक तौर पर खेद प्रकट किया और इस बार हुई गलती भविष्य में नहीं दौराने का वादा भी किया.

BJP MLA said sorry

मतदाता भगवान इसलिए नहीं पहनूंगा पदवेश

चौबे का एक और वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है, वीडियो में बीजेपी विधायक को एक गांव में बुजुर्ग मतदाता की तेल मालिश करते हुए देखा जा रहा है.

वहीं वीडियो कब का है और किस गांव का है यह अभी तक साफ नहीं हो सका है. दरअसल इसे लेकर बीजेपी से जुड़े लोग कुछ भी बोलने से बचते हुए नजर आ रहे है.

आपको बता दें कि बीजेपी विधायक भूपेश चौबे नामांकन दाखिल करने के बाद से ही लगातार नंगे पैर ही प्रचार कर रहे है. इतना ही नहीं उन्होंने चुनाव में जीत हासिल नहीं होने तक अन्न ग्रहण न करने का प्रण भी लिया है. उनका कहना है कि वोटर उनके लिए भगवान है, इसलिए वह उनके सामने चप्पल या जूते पहनकर नहीं जाएंगे.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.