यूपी चुनाव: ब्राह्मण प्रत्याशी सबसे ज्यादा जीते, यादवों से ज्‍यादा कुर्मी बने विधायक, इतने मुस्लिम बने MLA

यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी और सपा समेत तमाम पार्टियों ने जाति के आधार पर टिकट बांटेे और लोगों को साधने का प्रयास किया. 10 मार्च को आए नतीजों में सबसे ज्यादा ब्राह्मण प्रत्याशियों ने जीत हासिल की. दूसरे नंबर पर ठाकुर रहे. वहीं इस बार यादवों से ज्यादा कुर्मी विधायक विधानसभा पहुंचे हैं. सामने आया सपना चौधरी का वीडियो, सहारा लेकर चलने को मजबूर

ब्राह्मण प्रत्याशियों का दबदबा

ब्राह्मण प्रत्याशियों का बोलबाला- उत्तर प्रदेश में 52 ब्राह्मण प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की. जिसमें सबसे ज्यादा 46 ब्राह्मण प्रत्याशियों भाजपा के रहे. सपा से पांच और कांग्रेस से एक ब्राह्मण प्रत्याशी चुने गए.

yogi win in up

वहीं ठाकुर समुदाय की बात की जाए तो 49 जीतने वालों में से 43 एनडीए का हिस्‍सा है. वहीं सपा से चार और बसपा से सिर्फ एक सीट पर ठाकुर उम्‍मीदवार ने जीत दर्ज की. इसके अलावा जनसत्ता पार्टी से राजा भैया विधायक बने.

ओबीसी समुदाय में कुर्मियों का दबदबा- ओबीसी में सबसे ज्यादा कुर्मी उम्मीदवार जीते है. जबकि उनकी आबादी यादवों से कम है. 41 कुर्मी उम्मीदवारों में से 27 भाजपा+, 13 सपा+ और एक कांग्रेस के टिकट से जीते है.

वहीं यादव समुदाय से कुल 27 प्रत्याशियों को जीत मिली है. जिनमें 24 सपा और तीन बीजेपी के टिकट से चुनाव जीतेे हैं.

गैर यादव ओबीसी– गैर यादव ओबीसी में भाजपा से 18 प्रत्याशी जीते हैं और सपा+ से तीन उम्मीदवार जीते हैं.

दलितों में बीजेपी का जलवा- दलित उम्मीदवारों में भी भाजपा का जलवा देखने को मिला. पार्टी से जाटव समुदाय के 19 विधायक चुने गए, 10 को सपा+ की टिकट पर जीत हासिल हुई. इसके अलावा बीजेपी की टिकट पर 18 पासी और सपा से 8 और जनसत्ता पार्टी से 1 पासी उम्मीदवार जीता है.

2017 के मुकाबले मुस्लिम उम्मीदवार ज्यादा

वैश्य समुदाय में भाजपा की टिकट से 22 बनिया और 21 खत्री समुदाय के प्रत्याशी जीते हैं. एक को सपा की टिकट पर जीत मिली. जाट समुदाय से 15 में से 8 भाजपा और 7 सपा के टिकट से जीते हैं.

वहीं मुस्लिम उम्मीदवार की बात की जाए तो इस बार 2017 के मुकाबले मुस्लिम उम्मीदवार ज्यादा जीते हैं. 2017 में 24 मुस्लिम उम्मीदवारों ने जीते दर्ज की थी जबकि इस बार इनकी संख्या 34 रही.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.