यूपी में चुनाव के बीच बोर्ड का रंग बदला गया, भगवा से हुआ हरा, चर्चे हुए तेज

यूपी में चल रहा विधानसभा चुनाव अपने अंतिम दौर में पहुंचने लगा हैै. पांच चरणों का चुनाव हो चुका है और आज छाठवें चरण के लिए वोट डाले जा रहे है. चुनावों के संकेत काफी मायने रखते है, हर छोटी-से-छोटी बात के सियासी मायने निकाले जाते है. ऐसे ही राजनीतिक मायने अयोध्या की एक घ’टना के निकाले जा रहे हैं. दरअसल अयोध्या में जिलाधिकारी के आवास के बोर्ड का कलर बदल दिया गया है जिस पर अब सियासत की जा रही है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जिलाधिकारी नीतीश कुमार के आवास पर लगे बोर्ड का रंग भगवा से बदलकर फिर से हरा कर दिया गया है. जिस पर सपा नेता ने मजे लेते हुए कहा है कि सुबे के अधिकारी मौसम वैज्ञानिक होते हैं और बदलाव को पहले ही समझ लेते है.

बोर्ड का रंग भगवा से बदल कर किया हरा

यूपी में 3 मार्च को छठे चरण की वोटिंग से पहले अयोध्या में गुरुवार को जिलाधिकारी के आवास के बोर्ड का रंग बदलने के मामले में जिलाधिकारी ने कहा कि उन्‍हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है.

Changed the color

दरअसल अक्टूबर 2021 को जिले के तत्कालीन जिला अधिकारी अनुज कुमार झा का स्थानांतरण हुआ, इससे पहले ही जिला अधिकारी के निवास का पुन: निर्माण शुरू हो गया था.

जिसके चलते लोक निर्माण विभाग के गेस्ट हाउस में जिलाधिकारी के आवास को अस्थाई तौर पर शिफ्ट कर दिया गया था. अभी यही मौजूदा जिलाधिकारी नीतीश कुमार का आवास और कैंप कार्यालय बना हुुआ है.

उस वक्‍त जिलाधिकारी के आवास के बाहर जो बोर्ड लगाया गया वो भगवा था. लेकिन बुधवार को इस बोर्ड को अचानक ही बदल दिया गया. अब हरे रंग के बोर्ड पर सफेद कलर से जिलाधिकारी आवास लिखा गया है.

रंग बदलने के साथ ही इस पर सियासत शुरू हो गई है और इसके कई मायने निकाले जाने लगे है. वहीं इसकी टाइमिंग को लेकर भी सवाल उठ रहे है. एक तरफ विधानसभा चुनाव में एक-एक वोट के लिए संघर्ष तेज होता जा रहा है.

DM of Ayodhya

ऐसे में अयोध्या में जिलाधिकारी आवास के बोर्ड का रंग भगवा से हरा करना चर्चा का विषय बना हुआ है. वहीं समाजवादी पार्टी के नेता इसके अलग ही सियासी मायने निकाल रहे हैं.

अधिकारी होते है मौसम वैज्ञानिक

उन्‍होंनेे इसके पीछे झंडो के रंगों को आधार बताया. उन्‍होंने कहा कि बीजेपी के झंडे में भगवा और सपा के झंडे में हरा रंग है. लोग हवा का रूख समझ कर रंग बदलने की कवायद शुरू कर रहे है.

जिलाधिकरी आवास के बोर्ड का रंग बदलने पर सपा कार्यकर्ता ने तर्क देते हुए कहा कि इसका मतलब ये कि अखिलेश आ रहे हैं और योगी जी जा रहे हैं.

अयोध्या सदर से सपा के प्रत्याशी तेज नारायण पांडे ने इस मामले पर कहा कि अधिकारी सबसे बड़े मौसम वैज्ञानिक होते हैं. उन्हें पहले से जानकारी होती है कि किस की सरकार आ रही है और कौन सी सरकार जा रही है.

वहीं इस मामले पर लोक निर्माण विभाग से जुड़े अधिकारी कोई बात नहीं कर रहे है. आपकाेे बता दे कि अयोध्या में 27 मार्च को वोटिंग हो चुकी है, वहीं यूपी में अभी 2 चरणों का मतदान शेष है. 6वें चरण के लिए मतदान आज है.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.