मध्यप्रदेश में लॉकडाउन को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का बड़ा ऐलान, बताई ये 5 बातें

मध्यप्रदेश में कोरोना के तेजी से बढ़ते संक्रमण ने सब की चिंता बढ़ा दी है. आने वाले खत’रे को देखते हुए सूबे की सरकार भी हाई अलर्ट पर है. बीते दिन सूबे के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी भोपाल में बढ़ते संक्रमण पर लेकर अफसरों के साथ एक आपात बैठक की. पांच महीने बाद राजधानी में एक ही दिन में कोरोना के रिकॉर्ड 14 नए मरीज सामने आए हैं जिससे सूबे के सीएम समेत अफसरों की भी चिंता बढ़ गई है.

आपात बैठक के बाद सीएम शिवराज सिंह ने कई बड़े फैसले लिए. इस दौरान उन्होंने यह भी बताया कि सार्वजनिक कार्यक्रमों पर कोई रोक टोक नहीं होगी लेकिन सरकार ने एक बार फिर से मास्क को लेकर सख्ती दिखाई है. उन्होंने कहा है कि लोग हर स्तर पर सावधानी बरतें.

मास्क कोरोना से ल’ड़ने का हथि’यार

सीएम ने भोपाल के आला-अफसरों को निर्देश दिए है कि अगर जरूरत लगे तो छोटे कंटेनमेंट जोन बनाए जाए और कोरोना पॉजिटिव पाए गए सभी मरीजों को आइसोलेट किया जाए. साथ ही सीएम ने सूबे में रोको टोको अभियान को गति देने की बात भी कहीं है.

MP CM Shivraj Singh Chouhan
MP CM Shivraj Singh Chouhan

इसके साथ ही कोई भी आंकड़े न छिपाएं जाए यह भी कहा है. बुधवार को सुबह करीब 1 घंटे तक चली बैठक के बाद सीएम ने कहा कि फ़िलहाल कुछ भी बंद नहीं किया जा रहा है लेकिन हमें सावधान रहना होगा वर्ना हालात बेहद मुश्किल भरे हो सकते हैं.

एमपी की डिस्ट्रिक, ब्लॉक और पंचायतों की क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के साथ बैठक के बाद उन्होंने कहा कि अगर हम सावधानी नहीं रखते है तो परिस्थितियां कठिन हो जाएंगी. हम नहीं चाहते कि सूबे में फिर से लॉकडाउन लगे और काम-धंधे बंद हो जाएं.

सीएम ने भोपाल में अफसरों से कहा कि कोरोना जांच को एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन पर नियमित किया जाए. काटजू अस्पताल समेत अन्य अस्पतालों का चयन कर एक कार्ययोजना तैयार की जाए. प्रशासन को अलर्ट पर रखा जाए. रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के रैपिड एंटीजन टेस्ट कराए जाए.

आरटी- पीसीआर टेस्ट की व्यवस्था विभिन्न स्थानों पर की जाए. सीएम के साथ बैठक होने के बाद भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया ने लोगों से मास्क लगाकर रखने की अपील की है.

उन्होंने कहा कि मास्क नहीं पहनने वाले लोगों के खिलाफ सभी एसडीएम को चालानी कार्रवाई करनी होगी. कलेक्टर ने मास्क नहीं पहनने वाले लोगों पर अधिकतम 500 रुपए तक जुर्माना किये जाने का निर्देश दिया है.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के ऐलान की 5 खास बातें

  1. फ़िलहाल कुछ भी बंद नहीं किया जाएगा लेकिन सावधान रहना होगा, वर्ना मुश्किल भरे हो सकते हैं हालात
  2. सावधानी नहीं रखी गई तो बेहद विकट परिस्थितियां बन जाएंगी
  3. हम नहीं चाहते कि लॉकडाउन फिर से लगे, काम-धंधे ठप पड़ जाएँ और जिंदगी फिर से बहुत कठिन दौर से गुजरे
  4. जिन लोगों ने अभी तक सेकेंड डोज नहीं लगवाया है उन्हें तुरंत डोज लगवाएं जाएं
  5. मास्क पहनना अनिवार्य, यह कोरोना से बचाव के लिए सबसे बड़ा ह’थियार

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.