बैंक डूबने की ख़बरों के बीच जो PM मोदी ने बोला है पहले उसे सुन लो, सरकार को बाद में कोस लेना

पीएम नरेंद्र मोदी ने बैंक डूब जाने की स्थिति में जमाकर्ता की पूंजी को लेकर बड़ा खुलासा किया है. पीएम मोदी ने कहा है कि अब किसी भी तरह के वित्तीय संक’ट आने की स्थिति में या बैंक डूब जाने पर जमाकर्ताओं को पांच लाख रुपये मिलेंगे. उन्होंने कहा कि इससे पहले गलत सरकारी नीतियों के चलते ऐसा नहीं हो पाता था और जमाकर्ता को अपने ही पैसे के लिए आठ से दस साल तक भटकना पड़ता था.

पीएम मोदी ने बैंक डिपॉजिट इंश्योरेंस स्कीम से संबंधित एक कार्यक्रम में बोलते हुए कहा कि अब हमारी सरकार ने नीतियों में बदलाव किया है और इससे जमाकर्ताओं के आत्मविश्वास में बढ़ोतरी आएगी.

90 दिन में मिल जाएगा जमाकर्ता को उसका पैसा

पीएम मोदी ने आगे कहा कि 1300 करोड़ रूपये का भुगतान करीब एक लाख जमाकर्ताओं को किया गया है. ये ऐसे जमाकर्ता थे जो अपना पैसा अपने-अपने बैंकों पर आए वित्तीय संक’ट के चलते निकाल नहीं पाए.

Pm Narendra Modi
PM Narendra Modi

उन्होंने बताया कि ऐसे करीब तीन लाख दूसरे जमाकर्ता और बचे है, उन्हें भी उनके पैसे का भुगतान जल्द ही कर दिया जाएगा. पीएम ने नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित इस कार्यक्रम में अपनी बात आगे बढ़ाते हुए बैंकिग सेक्टर के लिए इस दिन को महत्वपूर्ण और ऐतिहासिक करार दिया.

इस दौरान पीएम मोदी ने कुछ ऐसे जमाकर्ता जो अपना ही पैसा बैंकों से नहीं निकाल पाए थे, उन्हें अपने हाथों से चेक दिये. पीएम ने कहा कि अगर बैंक कमजोर हो जाता है या फिर दिवालिया होने की स्थिति में जमाकर्ताओं को 90 दिन के अंदर पांच लाख रूपये मिलेंगे.

केंद्र सरकर ने DICGC एक्ट में बदलाव किये है और इसके तहत 98 फीसदी बैंक खातों को कवर किया गया है. इसके साथ ही 75 लाख करोड़ रुपये के डिपॉजिट का इन्श्योरेंस किया है.

बीते कुछ सालों से बैंकों की वित्तीय स्थिति बेहद नाजुक रही है. जिसके चलते कई बार जमाकर्ता अपने ही पैसे नहीं निकाल पाए. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन के अनुसार इस संशोधन के तहत उन लोगों को भी लाया गया है जो पिछले 5-6 सालों से अपने पैसे निकालने के लिए धक्के खा रहे है.

अब तक सिर्फ एक लाख का होता था इन्श्योरेंस

पीएम मोदी ने अपने संबोधन के दौरान बताया कि 60 के दशक में जमाकर्ताओं के लिए इन्श्योरेंस की व्यवस्था लागू की गई है. शुरुआत में बैंक में जमा सिर्फ 50 हजार रुपयों का ही इन्श्योरेंस होता था फिर इसे बढाकर एक लाख कर दिया गया.

पीएम मोदी ने कहा कि अब हमारी सरकार ने इस रकम को बढ़ाकर पांच लाख रुपये कर दिया है. अगर हम बैंक बचाना चाहते है तो हमें बैंक में पैसा जमा करने वालों को सुरक्षा मुहैया करनी होगी. हमारी सरकार ने जमाकर्ताओं और बैंकों को भी बचाया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि ऐसा इसलिए हो पाया है क्योंकि यह नया भारत हैं और नया भारत समस्या को टालने में नहीं बल्कि समाधान निकालने में यकीन रखता है.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.