अडानी पोर्ट पर ड्रग्स की बड़ी खेप पर खामोशी बताती है कि Aryan शाहरूख खान का बेटा होने की सजा भुगत रहा

शाहरुख़ खान के बेटे आर्यन खान ड्र’ग्स मामले को लेकर जे’ल में बंद है. उन्हें अभी तक जमानत नहीं मिल पाई है. वहीं इस मामले को लेकर चल रही जांच सवालों के घेरे में आती जा रही है. लोग इस मामले में चल रही कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए कह रहे है कि क्या अडानी के स्वामित्व वाले मुंद्रा पोर्ट पर इतनी बड़ी तादात में ड्र’ग्स पकड़ा गया था, क्या आर्यन के पास उससे भी अधिक ड्र’ग्स पाया गया है.

मिल रही शाहरुख़ का बेटा होने की स’जा

अगर ऐसा नहीं है तो क्या आर्यन खान को मुसलमान होने की स’जा मिल रही है या फिर शाहरुख़ खान का बेटा होने की सजा आर्यन भुगत रहे है. सोशल मीडिया पर आर्यन की गिर’फ्तारी का जमकर विरो’ध हो रहा है

aryan khan adani

इस मामले को लेकर वरिष्ठ पत्रकार विनोद कापड़ी ने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए सवाल उठाए है. कापड़ी ने लिखा है कि नरेंद्र मोदी सरकार और उनकी एजेंसियों को अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि #Adani के #MundraPort पर 21000 करोड़ की ड्रग कहाँ से आई? लेकिन छह ग्राम चरस के बहाने मीडिया अटेंशन के लिए इस मामले में यह सब जारी है.

वहीं इस मामले को लेकर नरेंद्र नाथ मिश्रा ने लिखा कि कड़वा सच यह है कि आर्यन को शाहरुख़ खान का बेटा होने के चलते सजा मिल रही है. अगर ड्र’ग का सेवन करने के आरोप में एनसीबी युवाओं को जे’ल में डालने लगी तो देश के हर शहर की हर जे’ल भर जाएगी उनकी जगह खाली नहीं मिलेगी.

उन्होंने आगे लिखा कि फैक्ट तो यह है कि ड्र’ग पर रोक लगाएगी जाए, यह जहर है. इसके खिलाफ कार्रवाई देशव्यापी होना चाहिए वो भी एक्शन प्लान के साथ, न की सिर्फ फुटेज के लिए कार्रवाई की जाए.

वहीं पत्रकार अतुल चौरसिया ने अपने ट्वीट में लिखा कि यह तस्वीर ऐतिहासिक है. जो चीख-चीख कर बता रही है कि पिछले 7-8 सालों में इस देश में क्या कुछ बदला है. क्यों उस वक्त लोग एके-47 रखने वाले के साथ खड़े नजर आए थे जबकि आज लोगों का 22-23 साल के लड़के का साथ देने में पसीना निकल रहा है. इन लोगों ने जो सबसे बड़ी चीज हासिल की है वो हैं कायरता.

aryan 1

वरिष्ठ पत्रकार संजीव पालिवाल अपने ट्वीट में लिखते है कि यह कैसे वक्त है यहां हम नाइंसाफी पर भी खुश हो रहे है. क्या कहा जाए ऐसे समाज को? जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए सुधाकर नाम के एक यूजर ने लिखा कि समाज वही है और दो मामले में भी, जिनमें अधिक अन्तराल भी नहीं है.

अडानी मामले में सवाल करने की हिम्मत नहीं

यूजर आगे लिखा है कि अडानी बंदरगाह से पकड़ी गई हजारों किलो हेरोइन हजारों करोड की थी, मामले की गंभीरता टीवी और न्याययिक जांच से समझ सकते है, अभिनेता का बेटा 4-6 लड़कों साथ 100-50 ग्रा0 ड्र’ग्स के साथ गिर’फ्तार होता है तब टीवी, जांच देखकर समझ जाओ.

वहीं अंसार आलम ने अपने ट्वीट में कहा कि देश की कानून व्यवस्था भी कमाल की है, जिसके पास न ड्र’ग्स मिला और न पैसे, उसे मिल रही है सजा. लेकिन जहां पर 3000 किलो ड्रग्स मिला उससे सवाल करने की हिम्मत ना तो सरकार में है और ना सरकार की मुट्ठी में बंद एजेंसियों में है. नजब का देश है हमारा.

विनोद कापड़ी ने संजीव पालिवाल के ट्वीट पर प्रतिकिया देते हुए लिखा कि सीधी-बात यह है कि आर्यन खान शाहरुख़ खान का बेटा है और मुसलमान है, इसलिए इस नाइंसाफ़ी पर देश की सत्ताधारी बीजेपी बीजेपी के IT CELL के इशारे पर ख़ुशियाँ बाँटी और बँटवाई जा रही है. 7 साल में नफरत और बदला ही मोदी की सबसे बड़ी उपलब्धि है.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.