पाकिस्तान की महिला पत्रकार ने आसिफ अली के 4 छक्के मारने पर हरभजन सिंह को किया ट्रोल, मिला यह जवाब

युएई में खेला जा रहा आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 लगातार आगे बढ़ता जा रहा है. इसके तहत 29 अक्टूबर की रात को पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच मुकाबला खेला गया. जिसमें पाकिस्तान ने अफगानिस्तान को 5 विकेट से हराकर आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 में लगातार तीसरी जीत दर्ज की. इसी जीत के साथ पाकिस्तान अपने ग्रुप में टॉप पर बना हुआ है. वहीं पाकिस्तान की इस जीत में अहम रोल आसिफ अली ने अदा किया.

आसिफ अली ने ने 19वें ओवर में 4 छक्के जड़कर एक ओवर बाकी रहते अपनी टीम पर शानदार जीत दिलाई. आसिफ अली की इस शानदार पारी की हर तरफ जानकर तारीफें हुई. तारीफ करने वालों में भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह भी शामिल रहे.

हरभजन सिंह को किया ट्रोल

हरभजन सिंह ने ट्वीट करके आसिफ अली की तारीफ की. लेकिन इसके वाद पाकिस्तान की महिला पत्रकार ने उन पर तं’ज कसाने की गलती कर दी. फिर भज्जी पर कहां पीछे रहने वाले थे, उन्होंने पत्रकार पर पलटवार करते हुए करारा जवाब दिया.

harbhajan singh 1

आसिफ अली की तारीफ करते हुए हरभजन सिंह अपने ट्वीट में लिखते है कि आसिफ अली ने आखिरी बॉल पर सिंगल लेने से मना किया और अगले ओवर में चार छक्के मारकर काफी आत्मविश्वास दिखाया. क्लीन एंड पावरफुल हिटर, अपने ट्वीट में उन्होंने #AFGvPAK #T20WorldCup @StarSportsIndia पर टैग भी किया.

इसके बाद हरभजन सिंह को टैग करते हुए पाकिस्तानी की पत्रकार सुमैरा खान ने लिखा कि हरभजन सिंह एक बार फिर 4 छक्के, वाकओवर चाहिए?

हरभजन सिंह ने उन्हें करारा जवाब देते हुआ सुमैरा की बोलती ही बंद कर दी. हरभजन ने एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट साक्षा किया. हरभजन ने इस स्क्रीनशॉट को शेयर करके सुमैरा खान पर कटाक्ष किया था.

हरभजन से मिला करारा जवाब

हरभजन ने इस स्क्रीनशॉट को साक्षा करते हुए कहा कि मुझे उम्मीद है इतनी अंग्रेजी तुम्हें समझ आ जाएगी या फिर कोई तुम्हें इसे उर्दू/हिंदी में समझाए? मुझे लगता है कि इतनी अंग्रेजी तुम्हें समझ में आना चाहिये और साथ में थोड़ी बहुत शर्म भी आनी चाहिए.

वहीं सुमैरा खान ने हरभजन के ट्वीट पर रिट्वीट करते हुए लिखा कि काका हरभजन सिंह जिस दिन आप करतारपुर साहिब जाने का फैसला करेंगे, तब में सीमा पर आपका स्वागत करने के लिए मौजूद रहूंगी.

खान ने आगे लिखा कि महान बाबा जी से महिलाओं को सम्मानपूर्वक बात करना जरुर सीखें. हम पाकिस्तान वाले पड़ोसियों के साथ सम्मानपूर्व बात करते हैं. आपको बाबा जी की माता की समाधि पर भी ले चलेंगे. इंशाल्लाह.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *