IPL 2022: आइपीएल के नए सीजन में लागू हुए ये नए नियम, प्लेइंग इलेवन से लेकर कैच के नियम में भी बदलाव 

इंडियन प्रीमियर लीग के 15वें सीजन की शुरुआत 26 मार्च से होने वाली है. इस बार के आइपीएल में कुछ नए नियम को लागू किया गया है. इस बार  हर टीम को डीआरएस के अधिक विकल्प मिलेंगे और टाई ब्रेकर मुकाबलों को लेकर भी नियमों में बदलाव किया गया है.

DRS के नियम में बदलाव

इस बार आइपीएल में हर टीम के पास पहले से ज्यादा डीआरएस के विकल्प होंगे. मैच खेलने वाली टीमों को हर पारी में एक की जगह पर दो DRS दिए जाएंगे, यानि मैच के दौरान कुल 4 DRS का इस्‍तेमाल किया जा सकेगा.

IPL new rules

कैच के नियम में बदलाव

मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (MCC) ने कैच के नियम में बदलाव किया है जिसे आइपीएल में भी लागू किया जाएगा. इसके तहत किसी बल्लेबाज के कैच आउट होने पर नए बल्लेबाज को ही स्ट्राइक लेना होगा.

बता दें कि पहले के नियमों के अनुसार कैच होने से पहले अगर दोनों बल्लेबाज अपने छोर बदल लेते थे तो नए बल्लेबाज को नान स्ट्राइक पर जाने की अनुमति होती थी.

प्लेइंग इलेवन के नियम

अगर कोरोना के चलते किसी टीम के पास मैच के लिए प्लेइंग इलेवन तैयार करने में दिक्‍कत होती है तो उस मैच को किसी और दिन शिफ्ट किया जाएगा.

टाई ब्रेकर मुकाबलों के लिए नियम

प्लेआफ और फाइनल मुकाबलों में टाई ब्रेकर के नियम बदलेे गए है. अगर कोई प्लेआफ या फाइनल मुकाबला टाई हुआ तो फैसला सुपर ओवर से नहीं होगा. नए नियम के तहत मैच के विजेता का फैसला लीग स्टेज की पांइट टेबल से किया जाएगा. मतलब जो टीम विरोधी सामने वाली टीम से उपर रही होगी उसी काे विजेता घोषित किया जाएगा.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.