हिंदू युवा वाहिनी प्रभारी योगी देवनाथ निकले एंजल प्रिया? लड़की के नाम से फर्जी अकाउंट बना कर किया…

अखिल भारतीय साधु समाज के सदस्य योगी देवनाथ जो खुद को गुजरात में हिंदू युवा वाहिनी के प्रभारी बताते हैं, इन दिनों खबरों में छाए हुए है. योगी देवनाथ की अपनी एक वेबसाइट भी मौजूद है जो yogidevnath.in है. वेबसाइट के अनुसार देवनाथ 25 सालों तक भारतीय जनता पार्टी के लिए भी काम कर चुके है. योगी देवनाथ से जुड़ा एक ट्वीट इन दिनों जमकर वायरल हो रहा है.

इस वीडियो में एक अन्य ट्वीट का स्क्रीनशॉट है, जो साल 2017 में योगी देवनाथ के अकाउंट से ही किया गया था. इस ट्वीट में लिखा हुआ था कि 8,51,000 फॉलोवर्स होने पर सभी को तहे दिल से धन्यवाद. ये फॉलोवर्स नहीं, मेरे परिवार का हिस्सा हैं. आप लोगों का ऐसे ही एक बहन को प्यार मिलता रहे.

योगी देवनाथ पहले थे मिताली शाह- जुबैर

इस पोस्ट में लिखा ‘एक बहन’ शब्द को लेकर ही विवाद खड़ा हो गया है. आरोप लगाए जा रहे है कि योगी देवनाथ ने एक महिला की पहचान बनाकर ट्विटर अकाउंट बनाया और फॉलोवर्स जुटाए. जब उन्होंने अच्छी तादात में फॉलोवर्स जुटा लिए तो महिला का नाम हटाकर अपनी जानकारी लिख दी.

yogi devnath and yogi

यह आरोप लगाते हुए फैक्ट चेकर मोहम्मद जुबैर ने कई ट्वीट किये है. मुबारक हो बहन. आपको बहुत सारा प्यार. लड़कियों के नाम से अकाउंट बनाओ और फिर भक्तों को बेवकूफ बनाकर फॉलोवर्स जुटाओ. जब फॉलोवर्स हो जाए तो असली नाम रख लो और फिर वेरिफाइड करवा लो. सही है.

उन्होंने बताया कि यह अकाउंट पहले मिताली शाह के नाम से चलाया जा रहा था और इसे बाद में नाम बदलकर योगी देवनाथ कर दिया गया है. जुबैर के इस दावे के साथ कई ट्वीट्स के स्क्रीनशॉट्स भी शेयर किये जो इस अकाउंट से साल 2014 और 2018 में किये गए थे.

सभी ट्वीट अलग-अलग समय के हुए. इनमें योगी देवनाथ के अकाउंट से ऐसे कई ट्वीट नजर आ रहे है जिनकी भाषा को पढ़कर लगे की यह किसी महिला द्वारा ट्वीट किये गए है.

जुबैर ने बताया है कि जब उन्होंने यह मामला उठाया तो योगी देवनाथ ने आनन-फानन में करीब 12 हज़ार ट्वीट्स डिलीट भी किये है. वहीं इस मामले पर सोशल मीडिया यूजर्स जमकर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं.

देवनाथ ने दी सफाई, बोले हैक हुआ अकाउंट

इस पूरे मामले को लेकर योगी देवनाथ ने द लल्लनटॉप से बातचीत के दौरान सफाई भी दी है. उन्होंने कहा कि मेरा ट्विटर अकाउंट कई बार हैक किया जा चूका है. जिस ट्वीट का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है उस वक्त मेरा अकाउंट हैक किया गया था.

तभी हैकर द्वारा इस तरह के ट्वीट मेरे अकाउंट से किये गए होगे. उन्होंने दावा करते हुए कहा कि मेरा अकाउंट 3-4 बार हैक हो गया है और हर बार इसी तरह के ट्वीट्स किए जाते रहे है. फिलहाल मैंने यह ट्वीट्स डिलीट कर दिए हैं. वेरिफाइड होने के बाद भी मेरा अकाउंट हैक करने का प्रयास किया गया था. मैं साइबर सेल में शिकायत करूंगा.

वहीं जुबैर के फैक्ट चैक के बाद योगी देवनाथ ने उन्हें निशाना बनाते हुए ट्वीट किया कि ऐसे एं’टी-हिंदू फैक्ट चेकर को इग्नोर करना चाहिए. #ArrestMohammedZubair.

इतना ही नहीं उन्होंने जुबैर के खिलाफ कई ट्वीट किये और कई आपत्तिजनक बातें भी कहीं. इसके बाद तमाम राइटविंग समर्थक भी इन स्क्रीनशॉट्स को ग़लत और भ्रामक करार देते हुए #ArrestMohammedZubair ट्वीट करने लगे और यह ट्रेंड करने लगा.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.