यूक्रेन मुद्दे पर बहस के दौरान भड़के जीडी बख्शी, कहा- 37 साल तक झक मारी है

यूक्रेन और रूस के दरमियान जारी संघर्ष पर पूरी दुनिया की निगाहें टिकी हुई हैं. यूक्रेन में भारत के कई छात्र अभी भी फंसे हुए हैं, भारत सरकार ने उन्‍हें निकालने के लिए चार केंद्रीय मंत्रियों हरदीप सिंह पुरी, किरेन रिजिजू, ज्योतिरादित्य एम सिंधिया और जनरल (सेवानिवृत्त) वीके सिंह को ऑपरेशन गंगा के तहत यूक्रेन के पड़ोसी देशों में भेजा है. यूक्रेन से छात्रों की वतन वापसी लगातार जारी है, साथ ही इस मामले पर भारत में चर्चा भी जारी है.

मोदी सरकार पर लगातार सवाल उठ रहे है कि आखिरकार सरकार ने वक्‍त रहते बच्चों को यूक्रेन से निकालने के लिए कोई कदम क्यों नहीं उठाया? विपक्ष इस मामले को लेकर सरकार पर लापरवाही करने का आरोप लगा रहा है.

इससे ज्‍यादा कोई क्‍या कर सकता है

इसी बीच टाइम्स नाउ चैनल पर चल रही डिबेट के दौरान कांग्रेस नेता अजय वर्मा ने सवाल उठाया कि सबको अनुमान था कि यूक्रेन में हालात भयावह हो सकते है लेकिन हमारे पीएम को इसका कोई अनुमान नहीं था.

G. D. Bakshi

कांग्रेस नेता के इस सवाल पर जवाब देते हुए शो में गेस्‍ट के तौर पर मौजूद Maj Gen (रि.) जीडी बख्शी ने कहा कि संघर्ष शुरू होने के आठ दिन पहले से भारतीय दूतावास लागातार एडवाइजरी जारी कर कहा था.

भारतीय दूतावास ने कहा था कि सभी भारतीय नागरिक यूक्रेन छोड़ दें. अब बताइये भला इससे अधिक और क्या सकता है? अब सरकार किसी को जबरन अरेस्ट करके तो नहीं ला सकती थी ना.

रक्षा विशेषज्ञ Maj Gen (रि.) जीडी बख्शी ने आगे कहा कि शुरुआत में पूरी दुनिया इसे लेकर असमंजस में थी. अमेरिका ने भी युद्ध की जो तारीख बताई वो भी गलत साबित हुई.

37 साल तक झक नहीं माराई मैंने

उन्‍होंने कहा कि अमेरिका ने बाताया कि 16 फरवरी को यु’द्ध शुरू होगा लेकिन इसकी शुरूआत 24 फरवरी को हुई. इसी दौरान कांग्रेस प्रवक्ता ने उन्‍हें बीच में टोकने का प्रयास किया जिस पर जीडी बख्शी भ’ड़क गये.

G. D. Bakshi angry

कांग्रेस प्रवक्ता अजय वर्मा पर तंज कसते हुए जीडी बख्शी ने कहा कि अरे साहब, थोड़ी मेरी भी सुन लो, मैंनेे 37 साल झक नहीं मराई है फौज में.

उन्‍होंने कहा कि देखिए हमारे पास जो जानकारी उपलब्‍द थी, उसी के आधार पर हमने आठ दिन पहले ही बता दिया था कि यूक्रेन छोड़ दीजिये.

कई बच्चों ने सरकार के एडवाइजरी को हल्‍के में लिया और कहा कि रूस यूक्रेन पर ह’मला नहीं करेगा, रूस तो बस गीदड़ भभकी दे रहा है. ऐसा इसलिए हुुुआ क्योंकि भारतीय छात्रों को यूक्रेन के नागरिक यही बता रहे थे.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.