अयोध्या के महंत ने लगाया ज़ी न्यूज़ के पत्रकार पर रंगदारी वसूलने का आरोप

अयोध्या धार्मिक नगरी होने के आलावा राजनीतिक तौर पर भी काफी सुर्खियां बटोरता रहता है. अयोध्या को लेकर तमाम न्यूज़ चैनल तरह-तरह की रिपोर्टिंग करते रहते हैं. अयोध्या वैसे को राजनीतिक रूप से काफी अहम रहा है लेकिन पिछले कुछ सालों में अयोध्या का महत्व राजनीतिक तौर पर काफी बढ़ा है. अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का कार्य शुरू होने के बाद सत्ताधारी बीजेपी को काफी फायदा होने का अनुमान लगाया जा रहा है.

कई न्यूज़ चैनल जिनमें जी न्यूज़ भी शामिल है द्वारा अपनी रिपोर्टिंग में विपक्षी पार्टियों को मंदिर वि’रोधी बताया जाता रहा है.

ज़ी न्यूज़ के पत्रकार ने वसूली रंगदारी

सोशल मीडिया पर एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है, वायरल वीडियो में एक संत एक प्रसिद्ध न्यूज़ चैनल को गंभीर आरोप लगाते हुए नजर आ रहे है.

Mahant Paramhansa

वीडियो में अयोध्या के संत परमहंस जी न्यूज के एक पत्रकार पर बड़ा आरोप लगते हुए नजर आ रहे है. यह आरोप काफी गंभीर है और इनकी जांच होना चाहिए. हालांकि अभी तक इस मामले में न्यूज़ न्यूज़ ने अपने पत्रकार पर ना तो कोई कार्रवाही की और ना ही इस मामले पर कोई प्रतिक्रिया दी है.

वायरल वीडियो में संत परमहंस ने बताया है कि उनसे पत्रकारिता की आड़ में लाखों रूपये में रिश्वत मांगी जा रही है. अयोध्या के संत परमहंस ने जी न्यूज के पत्रकार पर पैसों की डिमांड करने का गंभीर और संगीन आरोप लगाया है.

उन्होंने बताया है कि पत्रकार ने पैसों की डिमांड पूरी नहीं करने पर नेगेटिव खबरें चलाने की धमकी दी. परमहंस ने ज़ी न्यूज़ के पत्रकार पर कई आरोप लगाए है.

सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे इस वीडियो में परमहंस कहते हुए नजर आ रहे है कि दवाइयों के लिए, सब्जी के लिए और बच्चों की फीस के लिए जी न्यूज़ का एक पत्रकार उनसे हमेशा पैसे लेता था.

पैसे नहीं देने पर नेगिटिव खबरें फ़ैलाने की धम’की

महंत परमहंस ने कहा कि पत्रकार मनमीत गुप्ता मुझ से अब तक लाखों में रूपए वसूल चूका है और वह अब मुझे धम’की देते हुए कह रहा है कि अगर मैंने उसे 3 लाख रूपये नहीं दिए तो वह मेरे खिलाफ नेगेटिव खबरें चलाएगा. यह कहकर वो मुझ पर दबाव बनाने का प्रयास कर रहा हैं.

परमहंस वीडियो में कह रहे है कि पत्रकार को एक दर्पण माना जाता है जिसका काम सच्चाई को दिखाना होता है लेकिन जो शख्स मुझसे लाखों रुपए ले चूका है वह शख्स और दबाव बनाने का प्रयास कर रहा है यह ठीक नहीं है.

आपको बता दें कि यह मामला सोशल मीडिया पर तेजी से तूल पकड़ रहा है. लोग ज़ी न्यूज़ पर इस मामले में अब तक कोई कार्रवाई नहीं करने पर सवाल खड़े कर रहे है.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.