गाय को बचाने मगरमच्छ के आगे ढाल बन गए मुसलमान बंधू, जानिए फिर क्या हुआ

राजस्थान के कोटा में दयाभाव और नेकी की एक शानदार मिसाल देखने को मिली है. दरअसल गुरुवार को कोटा में दो गायें नहर के दलदल में फंस गई है. नहर में मगरमच्छ मौजूद था जिसके चलते कोई भी गायों की मदद के लिए आगे बढ़ने से कतरा रहा था. मगरमच्छ के ड’र से कोई हिम्मत नहीं दिखा पा रहा है.

Muslim youth took the cow out of the swamp
Muslim youth took the cow out of the swamp

ऐसे वक्त में गायों को निकालने के लिए आखिरकार एक युवा फ़रिश्ते की तरह आगे आया. यह मुस्लिम युवा था फिरदौस गौरी. इसके बाद फिरदौस अपने दोस्तों की मदद से दलदल में जा उतरा और काफी मशक्कत के बाद दोनों गायों को दलदल से बाहर निकालने में कामयाब रहा.

गाय को बचाने आगे आए मुस्लिम युवक

जब युवक गौमाता को बचाने के लिए रेस्क्यू कर रहे थे तब कई लोगों ने इसका वीडियो भी बनाया, जो अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. लोग इस वीडियो को देखकर युवाओं के जज्बे की खूब तारीफ कर रहे हैं.

kota muslim yuth

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शहर के स्टेशन चंद्रसेल इलाके में यूआईटी की तरफ से नहरी विकास को लेकर खुदाई का काम किया जा रहा है, जिसके चलते बने दलदल में गायें फंस गई थी.

गायों को दलदल से बाहर निकालने में मुमताज अली, दीपक नामदेव ,धर्मेंद्र भैया और लोकेश शुक्ला ने भी काफी मदद की. प्राप्त हो रही जानकारी के मुताबिक यूआईटी दफ्तर की तरफ जाते वक्त लोगों ने गायों को दलदल में फंसा हुआ देखा.

कुछ ही देर में वहां काफी भीड़ जमा हो गई. वहीं लोगों के बीच गाय को बाहर निकालने को लेकर काफी विचार-विमर्श हुए लेकिन लोगों के मन में ड’र था कि कहीं दलदल में कोई मगरमच्छ मौजूद ना हो, इसलिए किसी भी शख्स ने दलदल में उतरने की हिम्मत नहीं हो गई थी.

इसी बीच वहां से गुजर रहे फिरदौस गौरी नाम युवक ने मामले को देखा, तब युवक ने हिम्मत दिखाई और दलदल में उतर कर गायों की मदद करने की ठानी. युवक जेसीबी मशीन के सहारे दलदल में उतरा और किसी तरह से गाय का रेस्क्यू किया.

Cow was trapped in the swamp
Cow was trapped in the swamp

सोशल मीडिया पर इस रेस्क्यू का वीडियो खूब वायरल हो रहा है. लोग वीडियो को शेयर करते हुए युवाओं की काफी तारीफ करते नजर आ रहे है.

निकलते रहते है मगरमच्छ

आपको बता दें कि राजस्थान के कोटा जिले में चंबल नदी में बड़ी तादात में मगमच्छ देखने को मिलते रहते है, जिसके चतले लोगों ने अक्सर ही इसका भय देखने को मिलता है.

इतना ही नहीं कई बार तो मगरमच्छ नदी नहरों से निकल कर सड़कों तक पर आ जाते है. वहीं कई बार मगरमच्छ के घरों में घुसने के मामले भी सामने आए है. इसी के चलते इस मामले के दौरान भी लोगों के बीच दल-दल में मगरमच्छ होने का ड’र बना हुआ था.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.