NBDSA ने न्यूज़ नेशन को लगाई जमकर फटकार, धर्मांतरण जि’हाद पर पक्षपाती कवरेज के लिए एंकर पर कार्रवाई का आदेश

देश की मुख्यधारा मीडिया से लोगों का विश्वास डगमगाने लगा है. लोग अब मीडिया के विशेष हिस्से पर पूरी तरह से विश्वास नहीं कर पा रहे है. इसका कारण है मीडिया के कुछ हाउसेस खबरों को तोड़-मोड़कर और गलत तरीके से पेश कर रहे है. इतना ही नहीं पिछले कुछ सालों में फर्जी खबरों में भी इजाफ़ा हुआ है, मीडिया धड़के के साथ फर्जी खबरें चला रहा है. इसके आलावा खबरों के नाम पर इस्लामोफोबिया परोसा जा रहा है.

इसी को लेकर न्यूज़ ब्रॉडकास्टिंग एंड डिजिटल स्टैंडर्डस अथॉरिटी (NBDSA) ने न्यूज़ चैनल न्यूज नेशन जमकर फटकार लगाई है. 6 नवंबर, 2020 को न्यूज नेशन पर एक शो का प्रसारण हुआ था. इस शो को चैनल के कन्सल्टिंग एडिटर दीपक चौरसिया द्वारा किया गया था.

NBDSA ने न्यूज़ नेशन टीवी को लगाई फटकार

इस शो का प्रसारण धर्मांतरण जिहाद बेलगाम के टाइटल के साथ किया गया था. इसे लेकर शिकायत की गई थी जिस पर सुनवाई करते हुए न्यूज़ ब्रॉडकास्टिंग एंड डिजिटल स्टैंडर्डस अथॉरिटी ने प्रसारण के दौरान एंकरों को निष्पक्ष रहने में विफल पाया.

Deepak chauasia

वहीं इस शो के प्रसारण से पहले शो के होस्ट दीपक चौरसिया ने अपने अधिकारिक ट्वीट अकाउंट से ट्वीट भी किया था. उन्होंने लिखा था कि आज न्यूज़ नेशन धर्मांतरण जि’हाद को लेकर एक बड़ा खुलासा करने जा रहे है. हम बताएंगे कि मेमचंद को किस तरह से इस्लाम धर्म कबूल लेने के लिए विवश किया गया था.

इसमें आगे कहा गया था कि धर्मांतरण जि’हाद के पार्ट-2 में आप जानेंगे कि किस तरह से मेमचंद और उसके परिवार पर जु’ल्म किया गया और उसका इस्लाम धर्म में धर्म परिवर्तन कराया गया था.

दीपक के इस प्रोग्राम को लेकर काफी विवा’द हुआ था, इसे लेकर शिकायत भी दर्ज कराई गई थी. इसी पर सुनवाई के बाद अब NBDSA ने अपना आदेश जारी करके चैनल और एंकर दीपक चौरसिया को फटकार लगाई है.

Deepak chauasia tweet screenshot

 

 

NBDSA ने अपने आदेश में ब्रॉडकास्टर को फटकारते हुए कहा है कि ब्रॉडकास्टर को मामले में जांच पड़ताल करना चाहिए था और ऐसे एंकरों के खिलाफ सख्त से सख्त एक्शन लेना चाहिए जिन्होंने इस मामले में और प्रसारण के दौरान निष्पक्ष कवरेज नहीं की है.

प्रशिक्षण लेकर करें कार्यक्रम

एनबीडीएसए ने दीपक चौरसिया जैसे एंकरों को फटकार लगाते हुए उन्हें पत्रकारिता सीखने की सलाह दे डाली है. एनबीडीएसए ने कहा कि एंकरों को कार्यक्रम होस्ट करने से पहले उससे संबंधित प्रशिक्षण दिया जाना चाहिए.

एनबीडीएसए ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद पाया कि चैनल शिकायतकर्ता के सवालों के लिए विशिष्ट उत्तर देने में विफल रहा. इसी के साथ एनबीडीएसए ने न्यूज़ नेशन को धर्मांतरण जि’हाद पर अपने शो के सभी वीडियो हटा’ने के आदेश जारी किये है. उन्हें यूट्यूब, फेसबुक और ट्वीटर समेत सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म से वीडियो ह’टाने के आदेश भी दिये गए हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *