विवादों में घिरे समीर वानखेड़े हिंदू या मुस्लिम? बढ़ती जा रही है मुश्किलें अब पूर्व पत्नी डॉक्टर शबाना कुरैशी के…

बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले में गिरफ्तारी के बाद से ही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े सवालों के घेरे में घिरे हुए है. इस मामले को लेकर उनकी मुश्किलें कम होने का नाम ही नहीं ले रही है बल्कि लगातार बढ़ती जा रही है. वानखेड़े पर घू’स लेने और धर्म छुपाने जैसे कई गंभीर आ’रोप लग चुके है, वानखेड़े के धर्म को लेकर शुरू हुआ विवा’द लगातार गहराता जा रहा है.

इसी बीच अब उनकी पहली पत्नी के पिता ने बड़ा खुलासा किया है जिससे वानखेड़े की मुश्किलें और भी बढ़ सकती हैं. एनसीबी अधिकारी की पूर्व पत्नी डॉक्टर शबाना कुरैशी के पिता डॉक्टर जाएद कुरैशी ने बताया है कि समीर वानखेड़े ऐसे व्यक्ति है जो मुस्लिम रीति-रिवाजों का पालन करते हैं.

समीर वानखेड़े हिंदू या मुस्लिम?

कुरैशी ने कहा है समीर वानखेड़े रोज नमाज भी पढ़ते हैं और सभी मुस्लीम रीति-रिवाजों का पालन करते हैं. इंडिया टुडे की खबर के अनुसार डॉ. जाहिद कुरैशी ने कहा कि मेरी बेटी की शादी एक मुस्लिम परिवार में कराई गई थी और यह एक अरेंज मैरिज थी.

sameer 1

हम लोग इस रिश्ते को लेकर तीन साल से बातचीत कर रहे थे. मैं उस वक्त से ही दाऊद वानखेड़े और उनकी पत्नी को जानता था. वे भी मुस्लिम रीति-रिवाजों का पालन ही करते थे. उन्होंने कहा कि हमने अपनी बेटी का निकाह एक मुस्लिम परिवार में एक मुस्लिम लड़के के साथ किया था.

उन्होंने आगे कहा कि हम मुस्लिम है और हम अपनी लड़की की शादी हिंदू परिवार में नहीं करते है. आप ही सोचिए हम ऐसा क्यों करने लगे. हम लोगों ने दाऊद के परिवार से 3 साल की बातचीत के साथ सगाई की, सगाई मुस्लिम रीति-रिवाजों के मुताबिक हुई थी.

वहीं सगाई के 10 महीने बाद शादी की गई थी, निकाहनामे पर दाऊद वानखेड़े ने हस्ताक्षर किए और यह उर्दू के साथ-साथ अंग्रेजी में भी लिखा गया था. दाऊद के परिवार को हर कोई एक मुस्लिम परिवार के तौर पर ही जानता है.

ससुर ने खोले पूर्व दामाद के राज

वानखेड़े के पूर्व ससुर ने बताया कि उनकी मां एक क’ट्टर मुसलमान थी, वो सभी धार्मिक अनुष्ठान करती थी. समीर भी सभी मुस्लिम रीति-रिवाजों को फॉलो करते है और नमाज़ अदा करते है. इतना ही नहीं वो रमज़ान में रोजा भी रखते है. लेकिन वानखेड़े की मां के जाने के बाद चीजें थोड़ी बदल गई.

हालांकि इस दौरान उन्होंने इस पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया कि आखिर उनकी बेटी समीर से अलग क्यों हुई? बता दें कि एनसीपी नेता और मंत्री नवाब मलिक का आरोप है कि समीर वानखेड़े एक मुस्लिम है लेकिन उन्होंने नौकरी पाने और आरक्षण का फायदा लेने के लिए फर्जी तरीके से जाति प्रमाण पत्र बनवाकर खुद को दलित बताया.

आपको बता दें कि वानखेड़े के ससुर से पहले समीर वानखेड़े की 2006 में पहली शादी करवाने वाले काज़ी ने भी दावा कर चुके है कि एनसीबी अधिकारी एक मुस्लिम परिवार से ताल्लुक रखते है. उन्होंने कहा कि अगर ऐसा नहीं होता तो वो इस्लाम के अनुसार यह निकाह नहीं कराते.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *