भागवताचार्य और उसके सहयोगी पर छात्रा ने आबरू से खेलने के लगाए आरोप, मामला दर्ज करने में पुलिस की आनाकानी

उत्तर प्रदेश: सूबे के मथुरा से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एक छात्रा ने अपने साथ गलत काम होने और मारपी’ट के हैरतअंगेज मामले का खुलासा किया है. खबरों के अनुसार मथुरा जनपद के वृंदावन में स्थित एक आश्रम में रहने वाली छात्रा नर्सिंग की पढ़ाई कर रही है. छात्रा ने काशी विद्वत परिषद के पश्चिम भारत के प्रभारी भागवताचार्य कार्ष्णि नागेंद्र महाराज तथा उनके एक साथी देवेंद्र शुक्ला पर गंभीर आरोप लगाए है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार छात्रा ने भागवताचार्य कार्ष्णि नागेंद्र महाराज और उनके साथी पर दु’ष्क’र्म, मा’रपीट तथा जा’न से मा’रने की ध’मकी देने का मामला दर्ज कराया है.

छात्रा ने भागवताचार्य पर लगाए गंभीर आरोप

इसके आलावा पीड़िता ने पुलिस पर कार्यवाही नहीं करने का आरोप भी लगाया है. पीड़ित छात्रा ने कहा है कि पुलिस पर आरोप लगाते हुए पुलिस कार्यालय में 21 फरवरी को आ’त्मदाह करने की ध’मकी दी थी, जिसके बाद यह केस दर्ज किया गया है.

Bhagwatacharya

पुलिस के मुताबिक छात्रा ने वृंदावन के भागवताचार्य कार्ष्णि नागेंद्र महाराज ( निवासी- मोतीझील) और उनके साथी एवं प्रॉपर्टी डीलर देवेंद्र शुक्ला के खिलाफ उसके साथ गलत काम करने, मा’रपीट करने और जा’न से मा’र देने की धमकी देने के आरोप में पानीगांव थाने में शिकायत दर्ज कराई है.

पुलिस के मुताबिक पुलिस उपाधीक्षक (सदर) ने पीड़िता का बयान दर्ज कर मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है. छात्रा ने अपनी शिकायत में बताया है कि उसका पानीगांव के निवासी पुष्पेंद्र शुक्ला के साथ करीब चार साल पहले प्रेम संबंध थे.

छात्रा के मुताबिक वह प्रेमी पुष्पेंद्र के घर 20 मार्च 2018 को गई थी, तब पुष्पेंद्र के पिता देवेंद्र शुक्ला वहां आए और पुष्पेंद्र के साथ मारपीट कर वहां से भगा दिया.

शिकायत के मुताबिक इसके बाद उसे धमकाते हुए उसके साथ गलत काम किया गया और उस कृत्य की तस्वीरें खींच ली गई और उसे वायरल करने की धमकी देते हुए उसके साथ कई बार गलत काम किया गया.

पीड़िता ने मुताबिक इसके बाद देवेंद्र उसे नौकरी दिलाने का झांसा देकर भागवताचार्य कार्ष्णि नागेंद्र महाराज के पास ले गया. छात्रा को सात जुलाई 2020 को महाराज ने अपने मोतीझील स्थित आवास पर बुलाया और उसके साथ गलत काम करने उसका वीडियो बनाया.

पुलिस ने दिया आरोपियों का साथ- पीड़िता

इसके बाद महाराज ने उसे कई बार वीडियो वायरल करने की धमकी देकर उसके साथ गलत काम को अंजाम दिया. पीड़िता के मुताबिक उससे इन सब से तंग आकार 15 फरवरी को वृंदावन कोतवाली में शिकायत करनी चाही.

लेकिन पुलिस ने मामला दर्ज करने की जगह आरोपियों के साथ मिलकर छात्रा का मोबाइल ही कब्जे में ले लिया जिसमें दोनों आरोपियों के खिलाफ सबूत मौजूद थे. वहीं पुलिस अब मामला दर्ज करके जांच करने में जुटी हुई है.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.