Petrol Price Cut: पेट्रोल के दामों में भारी कटौती, लोगों ने कहा चलो कुछ तो सुकून मिला

देश भर में मंहगाई असमान छू रही है, खास तौर पर पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों ने लोगों को परेशान कर रखा है. पेट्रोल-डीजल के दामों में होने वाली इस लगातार बढ़ोतरी से हर कोई त्रस्त है और इससे जनता में आक्रोश लगातार बढ़ रहा है. इसी को देखते हुए तमिलनाडु सरकार ने लोगों को राहत देने की पहल की है. तमिलनाडु सरकार ने हाल ही में पेश अपने बजट में पेट्रोल-डीजल के दामों में बड़ी राहत दी है.

शुक्रवार को तमिलनाडु में बजट पेश किया गया. तमिलनाडु सरकार के वित्त मंत्री P.T.R. Palanivel Thiaga Rajan ने अपना पहला पेपरलेस बजट विधानसभा के सम्मुख रखते हुए कई बड़े ऐलान किया. इसके साथ ही बजट में पेट्रोल पर लगने वाली स्टेट एक्साइज ड्यूटी में कटौती की घोषणा भी की गई.

पेट्रोल के दाम में 3 रुपये की कमी

तमिलनाडु सरकार ने स्टेट एक्साइज ड्यूटी में 3 रुपये की कटौती का ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि इस पहल के बाद सूबे में पेट्रोल 3 रुपये सस्ता हो जाएगा. हालांकि राज्य सरकार के इस फैसले से सालाना 1,160 करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ेगा.

petrol prize

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शुक्रवार को चेन्‍नई में पेट्रोल का भाव 102.49 रुपये रहा वहीं डीजल का भाव 94.39 रुपये प्रति लीटर रहा. विधानसभा में बजट के पास होने के बाद पेट्रोल के दामों में 3 रुपये की कमी आ जाएगी जिससे आम जनता को थोड़ी बहुत राहत मिलेगी.

आपको बता दें कि देश में मई 2021 से लगातार पेट्रोल-डीजल के दामों बढ़ते ही जा रहे है. मौजूदा समय में राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और तमिलनाडु समेत करीब 15 राज्यों में पेट्रोल की कीमतें 100 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंच चुकी है.

आपको बता दें कि तमिलनाडु में पेट्रोल की कीमतों में कटौती के बाद एक्सपर्ट का मानना है कि तमिलनाडु सरकार के इस फैसले के तर्ज पर दुसरे राज्य भी पेट्रोल के दामों में कटौती कर सकते है.

अन्य राज्य भी कर सकते है कटौती

विशेषकों का कहना है कि तमिलनाडु सरकार के इस फैसले से अन्य राज्यों की सरकारों पर पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले टैक्स को कम करने का दबाव बनेगा और हो सकता है कि अगले ही कुछ दिनों में वो अपने राज्यों में कीमतें कम करने का कदम उठाए.

तमिलनाडु के बाद पंजाब, यूपी जैसे राज्यों में इस तरह के फैसले होने की ज्यादा संभावनाएं जताई जा रही है क्योंकि यहां अलगे साल ही विधानसभा चुनाव होने वाले है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *