गोरक्षक को सांड़ ने सींग में फंसाकर फेंका, सिर के बल जमीन पर गिरने से हुई मौ’त

उत्‍तर प्रदेश में सांडों के हामलों केे मामले तेजी से बढेे है. यही वजह है कि यह मुद्दा हमें यूपी चुनाव में भी गुंजते हुए मिला. इस मुद्दों को लेकर भी पार्टियों ने वोट मांगे थे. वहीं अब सांड के हमले का एक ताजा मामला सामने आया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार शानिवार रात को मैनपुरी के घिरोर क्षेत्र में एक गोशाला में घुसे निराश्रित गोवंश को भगाने के दौरान सांड़ ने एक गोरक्षक पर ह’मला कर दिया.

बाताया जा रहा है कि सांड़ ने गोरक्षक को उठाकर फेंक दिया और वह बिजली की केबल से टकराने के बाद सिर के बल नीचे जा गिरा.

गोरक्षक पर सांड़ ने किया हम’ला

उसे तुरंत मेडिकल कॉलेज ले जाया गया लेकिन रास्‍ते में ही उसकी मौ’त हो गई. पुलिस ने रविवार को श’व को पोस्‍टमार्टम के लिए भेजा.

cow protector

खबरों के अनुसार शनिवार की रात घिरोर थाना क्षेत्र के गांव नगला फत्ते निवासी 42 वर्षीय श्रीराम सिंह अपने साथी गोरक्षक ब्रजमोहन के साथ गोशाला में सोए हुए थे. इसी बीच रात करीब 9:30 बजे गोशाला में कुछ निराश्रित गोवंश खाई पार कर घुस आए थे.

वह निराश्रित गोवंश गोशाला में बंधे गोवंश को परेशान कर रहे थे. तभी श्रीराम जाग उठे और उन्‍होंने एक लोहे का डंडा लेकर गोवंश को भगाना चाहा, लेकिन इसी बीच एक सांड ने उन्‍हें पीछे से सींग में फंसाकर फेंक दिया.

जिसके कारण ऊपर से गुजर रही बिजली की केबल से श्रीराम जा टकराए और फिर मुंह के बल जमीन पर आ गिरे. जिससे वो गंभीर तौर से घायल हो गए थे.

उनके साथी ब्रजमोहन ने सांड़ को गौशाला से भगाने के बाद श्रीराम को नजदीकी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया. उनके परिजन उन्‍हें वहां से मेडिकल कॉलेज सैफई ले जा रहे थे.

साथी ने बताया आंखों देखा हाल

लेकिन इसी बीच श्रीराम ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया. इसके बाद परिजन श’व लेकर घर आए, पुलिस ने श’व को रविवार को पोस्टमार्टम के लिए भेजा.

cow protector sree ram

वहीं घटनास्‍थल पर श्रीराम के साथ मौजूद गोरक्षक ब्रजमोहन ने आंखों देखा हाल बताया. उन्‍होंने बताया कि गोवंश को भागते वक्‍त श्रीराम को पीछे से सांड़ ने उठाकर काफी ऊंचा उछाल दिया था जिससे उनके हाथ में मौजूद लोहे का डंडा ऊपर से गुजर रही बिजली के तार से टकरा गया.

उन्‍होंने कहा कि इसके चलते तेज आवाज के साथ फाल्ट हुआ और वह औंधेमुंह जमीन पर आ गिरे. पहले करंट और फिर चो’ट लगने के कारण वह इस दुनिया से चले गए. जब उन्होंने भी गोवंश को भगाने की कोशिश की तो वो उन पर भी हमलावर हो गए थे.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.