यूपी में ओवैसी को बेअसर करने के लिए चली जा रही यह सियासी दांव, ममता के मुस्लिम मंत्री ने साधा ओवैसी पर निशाना

उत्तर प्रदेश में अगली साल चुनाव होने वाले है, इसे में यूपी की सियासत में हलचल तेज हो चुकी है. इसी बिच हैदराबाद के संसद सदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन ने 100 से भी अधिक सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है. ओवैसी के इस ऐलान से सपा-बसपा से लेकर कांग्रेस तक में बेचेनी साफ तौर पर देखी जा रही हैं.

इसी बीच पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के मुस्लिम मंत्री मौलाना सिद्दीक उल्लाह चौधरी ने सोमवार को देवबंद का दौरा किया. इस दौरे के दौरान उन्होंने बीजेपी के साथ-साथ ओवैसी पर भी जमकर निशाना साधे, जिनके अब कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं.

ओवैसी को लिया निशाने पर

राजनीतिक जानकारों का ऐसा मानना है कि ओवैसी को यूपी की सियासत में बंगाल की तर्ज पर बेअसर करने के लिए बड़ा दांव खेलने की तैयारी की जा रही है. दरअसल ममता बनर्जी सरकार में सबसे मजबूत मुस्लिम चेहरा माने जाने वाले मंत्री मौलाना सिद्दीक उल्लाह चौधरी दारूल उलूम देवबंद नायब मोहतमिम कारी उस्मान मंसूरपुरी व मौलाना अब्दुल खालिक संभली के निधन पर शोक जाहिर करने के लिए यहां पहुंचे थे.

mamta and owaisi

इस दौरान उन्होंने जिस तरह से बीजेपी के साथ-साथ असदुद्दीन ओवैसी पर निशाने साधे और साथ ही मुसलमानों को बंगाल मॉडल की तर्ज पर यूपी में भी बीजेपी को मात देने का सन्देश दिया. जिससे स्पष्ट तौर पर माना जा रहा है कि उनका देवबंद का यह दौरा ऐसे ही नहीं था बल्कि इसके कई सियासी मकसद भी हैं.

मुसलमानों को एकजुट करने का दांव

इस दौरान मुस्लिम समुदाय को एकजुट करने के इरादे जाहिर करते हुए मौलाना सिद्दीक उल्लाह चौधरी ने कहा कि हिंदू और मुसलमानों ने एक साथ मिलकर बंगाल में ममता बनर्जी की अगुवाई में बीजेपी का सफाया कर दिया था. उन्होंने कहा कि बंगाल में देश व संविधान को बचाने के लिए 97 फीसदी मुसलमानों ने एकजुट होकर टीएमसी को को वोट किया.

उन्होंने कहा कि इसी तरह ही अब यूपी कि जनता भी एकजुट होकर भाजपा सरकार को पूरी तरह से उखाड़ फेंके. चौधरी के बयान से जाहिर है कि उन्होंने मुस्लिम समुदाय को सन्देश दिया है कि यूपी में भी बंगाल की तर्ज पर ही मुस्लिम अपना वोटिंग पैटर्न रखे.

निशाने पर असदुद्दीन औवेसी की रणनीति

मौलाना ने औवेसी पर निशाना साधते कहा कि हर राज्य के चुनावी मैदान में असदुद्दीन औवेसी कूद जाते है और मुस्लिम वोटों को बांटने का काम करते है, इसी के चलते बीजेपी जैसे ताकतें हावी होती जा रही है. उन्होंने आगे कहा कि बंगाल के चुनाव में भी ओवैसी कूदे थे लेकिन राज्य की जनता ने उन्हें पूरी तरह नकार दिया है.

उन्किहोंने आगे कहा कि बंगाल की जनता समझ चुकी थी कि उनके भडकाऊ बयानों से मुस्लिम समुदाय को कोई फायदा नहीं हो सकता है. इसी के साथ ही उन्होंने ओवैसी को बीजेपी की बी-टीम करार दिया है और यूपी में ओवैसी की सियासत को बेअसर करने के संकेत दिए.

About Preet Bharatiya

Avatar of Preet Bharatiya
प्रीत हिंदी न्यूज़ कंटेंट राइटर हैं, पत्रकारिता में M.A की योग्यता रखती हैं, फिलहाल ये यूसी न्यूज़ हिंदी के लिए बतौर फ्रीलांसर कार्य कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.